Warning: include(/home/ekhaliya/public_html/whtsappjokes/wp-content/plugins/constant-contact-forms/vendor/composer/../webdevstudios/wds-shortcodes/vendor/tgmpa/tgm-plugin-activation/class-tgm-plugin-activation.php): failed to open stream: No such file or directory in /home/ekhaliya/public_html/whtsappjokes/wp-content/plugins/mojo-marketplace-wp-plugin/vendor/composer/ClassLoader.php on line 444

Warning: include(): Failed opening '/home/ekhaliya/public_html/whtsappjokes/wp-content/plugins/constant-contact-forms/vendor/composer/../webdevstudios/wds-shortcodes/vendor/tgmpa/tgm-plugin-activation/class-tgm-plugin-activation.php' for inclusion (include_path='.:/usr/local/php56/pear') in /home/ekhaliya/public_html/whtsappjokes/wp-content/plugins/mojo-marketplace-wp-plugin/vendor/composer/ClassLoader.php on line 444
Navratri 2018 Puja: जानें क्यों खास होता है चैत्र नवरात्र और क्या है इसका महत्व - Whatsapp Jokes

Navratri 2018 Puja: जानें क्यों खास होता है चैत्र नवरात्र और क्या है इसका महत्व

चैत्र नवरात्र का महत्व इसलिए होता है क्योंकि इस महीने से शुभता और ऊर्जा का आरम्भ होता है। ऐसे समय में मां दुर्गा की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि आती है।

हिंदू धर्म में नवरात्र एक प्रमुख त्योहार है। इस दौरान 9 दिन मां दुर्गा के अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। एक वर्ष में चैत्र, आषाढ़, आश्विन और माघ के महीनों में कुल मिलाकर चार बार नवरात्र आते हैं लेकिन चैत्र और आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नवमी तक पड़ने वाले नवरात्र काफी लोकप्रिय हैं। बसंत ऋतु में होने के कारण चैत्र नवरात्र को वासंती नवरात्र तो शरद ऋतु में आने वाले आश्विन मास के नवरात्र को शारदीय नवरात्र भी कहा जाता है। इस साल चैत्र नवरात्र 18 मार्च से शुरू हो रहे हैं। नवरात्र 18 मार्च से शुरू होकर 25 मार्च तक रहेंगे। 26 मार्च को कन्या को भोजन करवाकर व्रत खोला जाता है।

चैत्र और आश्विन नवरात्र में आश्विन नवरात्र को महानवरात्र कहा जाता है। क्योंकि यह नवरात्र दशहरे से ठीक एक दिन पहले होता है। नवरात्र में देवी मां के 9 रूपों की पूजा की जाती है। मां शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कुष्मांडा, स्कंदमाता, कात्यायनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्रि मां के नौ अलग-अलग रुप हैं। चैत्र नवरात्र का महत्व इसलिए होता है क्योंकि इस महीने से शुभता और ऊर्जा का आरम्भ होता है। ऐसे समय में मां दुर्गा की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि आती है।

हिंदू धर्म में नवरात्रि के नौ दिनों को बहुत पवित्र माना जाता है। इस दौरान देवी दुर्गा की कृपा पाने के लिए भक्त मां दुर्गा को विभिन्न तरह भोग आदि लगाते हैं। देवी का आशीर्वाद उनपर सदैव बना रहे इसके लिए कुछ लोग इन दिनों नौ दिन का उपवास करते हैं। नवरात्रि के दौरान लोग व्रत में सात्विक भोजन के साथ-साथ घर में साफ सफाई पर विशेष ध्यान देते हैं।

Navratri 2018: चैत्र नवरात्रि के लिए मां दुर्गा से जुड़े 9 मैसेज, भेजकर दें सभी को बधाई

सारा जहां है जिसकी शरण में
नमन है उस मां के चरण में
हम है उस मां के चरणों की धूल
आओ मिलकर मां को चढ़ाएं श्रद्धा के फूल
शुभ नवरात्रि

जगत पालनहार है मां
मुक्ति का धाम है मां
हमारी भक्ति का आधार है मां
सबकी रक्षा की अवतार है मां
शुभ नवरात्रि

मां दुर्गा आई आपके द्वार
करके आई माता 16 श्रृंगार
आपके जीवन में न आए कभी हार
हमेशा रहे सुखी आपका ये परिवार
शुभ नवरात्रि

देवी मां के कदम आपके घर में आएं
आप खुशी से नहाएं
परेशानियां आपसे आंखें चुराएं
नवरात्रि की आपको ढेरों शुभकामनाएं
शुभ नवरात्रि

जिंदगी की हर तमन्ना हो पूरी
कोई भी आरजू ना रहे अधूरी
करते हैं हाथ जोड़कर मां दुर्गा से बिनती
की आपकी हर मनोकामना हो पूरी
शुभ नवरात्रि